कैसे होती है Diabetes ?

कैसे होती है Diabetes? ; जब व्यक्ति की पाचन ग्रंथि मैं इंसुलिन हार्मोन का बनना कम हो जाता है, तो खून की मात्रा में ग्लूकोस का स्तर बढ़ने लगता है| यह इंसुलिन हार्मोन ही  हैं , जो शरीर में शुगर की मात्रा को नियमित रखते हैं| इसके प्रभावित होने पर मधुमेह होता है और शरीर के दूसरे अंगों पर भी असर पड़ता है.

खास बातें

  • आहार में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली चीजों को शामिल करें.
  • कम-जीआई आहार आपको कुछ वजन कम करने में मदद कर सकता है.
  • कम-जीआई आहार का सेवन हृदय रोगों के कम जोखिम से भी जुड़ा है

Diabetes Diet Plan: Glycemic Index है ब्लड शुगर लेवल बिगड़ने का कारण, जाने डायबिटीज कंट्रोल करने वाले फूड लिस्ट!

कैसे होती है Diabetes? ; Diabetes में ऐसे फूड खाने की सलाह दी जाती है जिनका Glycemic Index कम हो, डायबिटीज डाइट का ख्याल रखकर ही ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है.

Glycimic Index – वह माफ है जिससे पता लगाया जाता है किसी खाने की चीज में मौजूद कार्बोहाइड्रेट कितनी देर में ग्लूकोज बनता है और उसे ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है इंडेक्स वाले शुद्ध ग्लूकोस को स्टैंडर्ड मानकर दूसरे खाने की चीजों की तुलना करके उन्हें 0-100 तक की रैंक दी जाती है.डायबिटीज रोगियों को लो जी आई वाले फूड का सेवन करने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह मध्यम और उच्च जी आई खाद्य पदार्थ की तुलना में किसी व्यक्ति के ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाने में अधिक समय लगाते हैं. दरअसल यह बहुत धीरे-धीरे बसते हैं और अवशोषित होते हैं और ब्लड शुगर में धीमी वृद्धि करते हैं. लो जी आई खाद्य पदार्थ का स्कोर 55 से कम होता है मध्यम जी आई खाद्य पदार्थ का स्कोर लगभग 56-69 होगा जबकि उचित जी आई खाद्य पदार्थ का स्कोर 70 और उससे ज्यादा हो सकता है.

कुछ कम Low Glycimc Index वाले भोजन

डेयरी, मछली, मांस, सोया और अंडे: मलाई निकाला हुआ दूध, सोया मिल्क, बादाम मिल्क,लोफट पनीर, दही (लोफैट याग्रीक) दुबला लाल मांस, मछली, त्वचाहीन
चिकन और टर्की, शंख, अंडासफेद, अंडे की जर्दी (3 / सप्ताह तक)
सोया उत्पाद, एग बीटर,
गैर-स्टार्च वाली सब्जियां:- शतावरी, आटिचोक, एवोकाडो, ब्रोकोली, गोभी, फूलगोभी,  ककड़ी, बैंगन, साग, सलाद, मशरूम, मिर्च,  भिंडी, प्याज, पालक, ग्रीष्मकालीन स्क्वैश, तोरी, शलजम।
अनाज: जौ, राई, बुलगुर, जंगली चावल, गेहूं टॉर्टिला, गेहूं पास्ता.


भारत में Amazon की Food Delivery सर्विस का आरंभ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *